टैक्स चोरी रोकने के लिए एक्साइज एंड टैक्सेशन डिपार्टमेंट ने बनाई 5 टीमें

टैक्स चोरी रोकने के लिए एक्साइज एंड टैक्सेशन डिपार्टमेंट ने बनाई 5 टीमें

ई वे बिल जेनरेट न करने, टैक्स जमा न करवाने वाले ट्रेडर्स पर अब कार्रवाई शुरू हो गई है। इस हफ्ते ही कई ट्रेडर्स के यहां एक्साइज एंड टैक्सेशन डिपार्टमेंट ने चेकिंग की है जबकि अब इस महीने और ट्रेडर्स पर कार्रवाई के लिए 5 टीमें बना दी गई हैं। एक्साइज एंड टैक्सेशन डिपार्टमेंट ने 5 टीमें अलग अलग एक्साइज एंड टैक्सेशन ऑफिसर्स की प्रमुखता में बनाई हैं जो टैक्स चोरी करने वाले ट्रेडर्स के यहां चेकिंग करेंगी और डॉक्यूमेंट्स चेक करने के बाद पेनल्टी लगाने की कार्रवाई करेगी। चंडीगढ़ में करीब 5 हजार से ज्यादा जीएसटी रजिस्टर्ड ट्रेडर्स ने ई वे बिल में रजिस्ट्रेशन करवाया है। जिसके चलते अब ई वे बिल को लेकर भी चेकिंग शुरू की जाएगी और जिन ट्रेडर्स ने ई वे बिल जेनरेट नहीं किया होगा उन पर पेनल्टी लगाई जाएगी। इसके लिए डिपार्टमेंट की तरफ से उन ट्रेडर्स की लिस्ट तैयार की गई है जिनका टैक्स जमा करवाने का डाटा मिसमैच हुआ है। इस महीने अब ऐसे ट्रेडर्स के यहां चेकिंग होगी।